Desibhabhistories.com



भाभी को अपने घर पर चोदा

दोस्तों मेरा नाम अमन है और मैं प्रॉपर्टी का काम करता हूं। मैं गुजरात के भरूच में रहता हूं। मैं काफी समय से प्रॉपर्टी का काम करता हूं। जिसमें मुझे अच्छा खासा मुनाफा हो जाता है और मैंने कई जगह पर अपनी प्रॉपर्टी भी जोड़ ली है। उन्हें ही मैं कभी सेल करता हूं और कभी दोबारा से नई प्रॉपर्टी खरीद लेता हूं। मेरा कहीं पर कोई कंस्ट्रक्शन का काम चल रहा होता है। तो उसमें इनवेस्टमेंट डाल देता हूं। इसी तरीके से मेरा काम काफी अच्छा चल रहा था।

मैं एक दिन कार में जा रहा था। उस दिन बारिश काफी तेज हो रही थी। आगे कुछ साफ साफ दिखाई भी नहीं दे रहा था। मुझे आगे एक औरत ने हाथ दिखाया। वह बारिश में पूरी तरीके से भीगी हुई थी। मैंने उसे देखकर गाड़ी रोक ली उसके साथ उसका एक छोटा बच्चा भी था। मैंने उसे गाड़ी में बैठा लिया। जैसे ही मैंने उसे गाड़ी में बैठाया। वह पूरी तरीके से भीगी हुई थी। उसके स्तन और उसकी गांड का हिस्सा बाहर दिखाई दे रहा था। मैंने उससे पूछा आपका नाम क्या है। उसने बताया मेरा नाम अंबिका है। मैंने उनसे पूछा यह आपका बच्चा है। उसने कहा मेरा बच्चा है। मैंने कहा आप इसे कहां ले जा रही हैं। उसने कहा कि मैं इसे स्कूल से घर लेकर जा रही थी। तभी बहुत तेज बारिश हो गई और वहीं पर फंस गई। उसने मुझे फिर शुक्रिया कहा और कहा आजकल के जमाने में तो कोई किसी को देखकर गाड़ी भी नहीं रोकता है। मैंने उसे कहा नहीं हर कोई व्यक्ति इस तरीके का नहीं होता है। ऐसी बातें करते-करते हम लोग उसके घर के पास पहुंच गए। उसने मुझे कहा कि मेरा घर आ गया है आप कभी हमारे घर आना मैंने कहा ठीक है। मुझे कभी समय मिलेगा तो मैं आ जाऊंगा। फिर मैंने उनसे उनका फ्लैट नंबर पूछ लिया।

अब मैं आगे निकल पड़ा और अपने घर पहुंचकर आराम करने लगा। मुझे अंबिका भाभी का ख्याल आ रहा था। क्योंकि वह बहुत ही सेक्सी और अच्छी थी। मैं अपने काम में व्यस्त था।

एक दिन उनके घर के पास में ही मुझे कोई डील करनी थी। मैं उनके वहां पर गया तो उन्होंने मुझे देख लिया और रोक लिया। उन्होंने मुझे कहा आप यहां कहां पर तो मैंने उन्हें बताया कि मेरा प्रॉपर्टी का काम है। मैं यहां किसी डील के सिलसिले में आया हूं। वह कहने लगी जब आपका यह काम हो जाए। आप हमारे घर पर आ जाना। मैं उन्हें कहा ठीक है मैं देखता हूं जैसे ही मुझे समय मिलेगा तो मैं आ जाऊंगा। मैं भी वहां से जल्दी फ्री हो गया और मैं अंबिका भाभी के घर पर चला गया जैसे ही मैंने बेल बजाई उनके घर पर तो उन्होंने दरवाजा खोला। मैंने वहां देखा उनके पति भी बैठे हुए थे। उन्होंने मुझे अपने पति से मिलाया और कहने लगी यही वह है। जिन्होंने मुझे लिफ्ट दी थी। उनके पति ने मुझसे हाथ मिलाया और मुझे पूछा कि आप क्या करते हैं। मैंने उन्हें बताया मेरा प्रॉपर्टी का काम है। मैं यहां किसी को प्रॉपर्टी दिखाने लाया था। वह भी मुझसे कहने लगे हमें भी कहीं पर कोई अच्छी सी प्रॉपर्टी दिलवा दीजिए। मैंने  पत्नी का नंबर ले लीजिए क्योंकि मै तो घर पर रहता नही हूं। जब भी कोई अच्छी प्रॉपर्टी  आपकी नजर में हो तो आप मेरी पत्नी को फोन करके दिखा दीजिएगा। मैंने कहा ठीक है। जहां पर भी मुझे कुछ अच्छा दिखेगा तो मैं आपको बता दूंगा। अब मैं वहां से चला गया।

मैंने अंबिका भाभी को फोन किया और  कहां की प्रॉपर्टी है। आप यहां पर आ जाइए देखने के लिए तो वह वहां पर आ गई। अब वह प्रॉपर्टी देख रही थी तो वो जींस और टीशर्ट पहन कर आई हुई थी। जैसे ही वह सीढ़ियों से ऊपर चढी तो उनकी गांड दिखाई दे रही थी जो कि काफी बड़ी थी। मुझे अच्छा लग रहा था उनके स्तन उनकी टी-शर्ट से बाहर दिखाई दे रहे थे। मै खुश हो रहा था अब मैंने उनकी गांड पर हाथ मार दिया। मैंने उन्हें कहा कि आपको यह कैसा लगा वह कहने लगी अच्छी प्रॉपर्टी है अपने पति से में बात कर लूंगी और इसे हम फाइनल कर लेंगे।

मैंने कहा कि उस दिन आपने मुझे अपने घर बुलाया था। आज आप मेरे साथ मेरे घर चले। वह पहले मना करने लगी लेकिन मैं उन्हें अपने घर ले गया। वहां पर कोई नहीं था क्योंकि मैंने अपने मौज मस्ती के लिए वह घर बना रखा है। जहां पर मेरा एक नौकर रहता था।। मैंने उससे कहा कुछ बना दो। तो उसने हमारे लिए थोड़ी सी स्नैक्स बना दी। अब हम लोगों स्नैक्स खाने लगे।

मैंने भाभी जी से पूछा कि आप ड्रिंक भी करती हैं। उन्होंने कहा हां कभी कभी कर लेते हैं। मैं उनके लिए एक शराब की बोतल अलमारी से निकाल कर ले आया। मैंने उनके लिए पैक बनाए उन्होने वह पैक पिया और अब उन्हें नशा हो गया था। मैंने ऐसे में उन्हें भी कहा कि आप बहुत ही सेक्सी लगती हैं। यह सुनकर वह काफी खुश हो गई। अब उन्हें काफी ज्यादा नशा हो गया था।

मैं उन्हें उठा कर अपने बेडरूम में ले गया और उन्हें वहां बिस्तर पर लेटा दिया। जैसे ही मैंने बिस्तर पर लेटाया तो उन्होंने मुझे पकड़ लिया और कहने लगी तुम भी मेरे पास आकर सो जाओ। मै उनके पास में ही सो गया। वह मुझसे चिपक कर सो रही थी। तो उनके स्तन मेरे मुंह पर लग रहे थे। मैंने धीरे से उनके स्तनों को बाहर निकाला। वह कहने लगी तुम्हें सेक्स करना है क्या मैंने कहा हां मुझे तुम्हें चोदना है। अब मैने उनकी टी-शर्ट उतार दी उनके बड़े-बड़े स्तनों को अपने हाथ में लिया वह बहुत ही बड़े थे। उसके बाद मैं भाभी के स्तनों को चूसना शुरू किया। मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था। मै  उनके स्तनों को भी काट देता और वह खुश हो गई। थोड़ी देर बाद  खुद ही जींस उतारकर कहने लगी मेरे ऊपर चढ़ जाओ। मैंने अपनी पैंट को खोल दिया और उनके ऊपर चढ़ गया। जैसे ही मैं उनको  ऊपर चढ़ा वह मुझे कहने लगे पहले मुझे अपना लंड दिखाओ मैंने उन्हें अपना लंड दिखाया। तो वह कहना कि तुम्हारा तो बहुत ही मोटा और अच्छा है। पहले इसे मै अपने मुंह में लूंगी।  अंबिका भाभी के स्तनों पर बैठ गया और उन्होंने अपने मुंह में लंड को ले लिया। जिससे वह अंदर लेती जाती तो मुझे अच्छा लग रहा था। मैंने भी उनकी गले तक अपना लंड डाल दिया। वह कहने लगी मुझे अच्छा लग रहा है। अब तुम मेरी योनि को फाड़ दो। जैसे ही उन्होंने यह बात कही तो मैं उनके ऊपर चढ़ गया और उनकी योनि में अपने लंड को प्रवेश करवाने लगा। लंड को मैने उनकी योनि में डाल दिया। मेरा पूरा लंड उनके अंदर जा चुका था। मैंने उनकी योनि की दीवार तक अपने सटा दिया था और मेरे अंडकोष उनकी योनि से टकरा रहे थे। मैं धीरे-धीरे अंदर बाहर करता जाता तो वह चिल्लाती जाती। और कहती थोड़ा तेज करो अब मैंने तेरे तेज करना शुरू किया। मैंने  उनके  स्तन पकड़कर अपने मुंह में ले लिए उनके स्तनों से दूध निकल रहा था। वह भी मैं पी गया जैसे ही मैंने स्तनों का दूध पिया तो मुझे अच्छा लगने लगा। ऐसा करते-करते मुझे काफी समय हो चुका था और मेरा गिरने वाला था मैंने कम से कम 200 झटके मारे। मेरे झटकों से उनके स्तन और उनका पूरा बदन हिल जाता। मेरा वीर्य गिरने वाला था। तो मैंने अपना लंड बाहर निकालकर उनके स्तनों पर गिरा दिया। उन्होंने फिर अपनी पैंटी से अपने स्तन को साफ किया। मैंने इस बार उनको उल्टा कर दिया और अपने लंड को उनकी योनि में घुसा दिया। जैसे ही मैंने उनकी योनि में दोबारा अपने लंड को घुसाया तो वह बहुत तेज चिल्लाने लगी। मैने उनकी बड़ी सी गांड को अपने हाथ से पकड़ा हुआ था और मैंने बड़ी तेजी से धक्का मार रहा था। उनकी गांड मेरे लंड से टकराती और फिर मैं पीछे हो जाता। अब उन्हें भी बहुत अच्छा लगने लगा था। वह चिल्ला चिल्ला कर कहती है और करो और करो। मैं इतना तेज कर रहा था। उन्हें मजा आ रहा था। थोड़ी देर बाद कुछ समय बाद मेरा वीर्य गिरा गया  हमे गरम महसूस हुआ।

हम दोनों ऐसे ही लेटे रहे काफी देर तक हम दोनों एक दूसरे को पकड़ कर सोते रहे। जब उनका नशा उतरा तो वह कहने लगी मुझे घर जाना है। मैंने कहा ठीक है मैं आपको छोड़ देता हूं मैंने भी अपने कपड़े पहने और उनके घर पर छोड़ कर आ गया। मेरा जब भी मन होता तो मैं अंबिका भाभी के घर उन्हें चोदने चला जाता।